बेहतरीन सनसेट फोटोग्राफी कैसे करें [11 कैमरा सेटिंग टिप्स]

सनसेट फोटोग्राफी है तो लैंडस्केप फोटोग्राफी का ही एक भाग पर सूर्यास्त की परफेक्ट फोटो लेने के लिए कैमरा सेटिंग करना तनिक मुश्किल भरा होता है | 

क्या आप बता सकते हैं की अधिकतर पर्यटन स्थलों पर सनसेट पॉइंट या सूर्यास्त बिंदु क्यों दिए जाते हैं |

आपने ठीक समझा, हम सभी को सूर्यास्त देखना और पल प्रतिपल रंग बदलते बादलों में खो जाना बहुत ही अच्छा लगता है |

अब आप चाहे किसी पहाड़ी स्थान पर हों या कहीं समुद्र तट पर सनसेट देखना सभी को अच्छा लगता है |

अब आप इतना बेहतरीन सूर्यास्त देखने के बाद चाहेंगे की इस दृश्य को कहीं कैद कर के रख लिया जाये जिससे उसे हम बार बार देख सकें |

इसके लिए आपको सनसेट फोटोग्राफी के बारे में जानना होगा और सीखने होंगे वो कैमरा सेटिंग जिसकी मदद से एक नौसीखिया भी बेहतरीन फोटो ले सकेगा |

आइये बात करते हैं 11 बेहतरीन सूर्यास्त फोटोग्राफी टिप्स के बारे में |

इन फोटोग्राफी टिप्स को आप सनसेट ही नहीं बल्कि सनराइज के दौरान भी बखूबी उपयोग कर सकते हैं |

विषय-सूची छिपाएं
सनसेट फोटोग्राफी के लिए 11 बेहतरीन टिप्स

सनसेट फोटोग्राफी के लिए बेहतरीन कैमरा सेटिंग

कैमरा सेटिंग

एक्सपोज़र मैन्युअल 
फोकस मैन्युअल 
वाइट बैलेंस शेड  / क्लाउडी /मैन्युअल 
लेंस 16-24 mm
शटर स्पीड 1/30 से कम 
अपर्चर f11-f16
ISO200 से कम 
शूटिंग मोड मैन्युअल /अपर्चर प्रायोरिटी 
फोटो फॉर्मेट RAW

 

सनसेट फोटोग्राफी के लिए 11 बेहतरीन टिप्स 

सनसेट फोटो

Sunset Photography उनके लिए बहुत ख़ास होती है जो फोटोग्राफी में रुचि रखते हैं |

पर इस शानदार दृश्य को शूट करने के लिए बहुत सारी परेशानियां भी उठानी पड़ती हैं |

असल में होता यह है की जो सीन  उस समय हमारी आँखें देख रही होती हैं उसे हमारा कैमरा कैप्चर नहीं कर पाता है |

अपनी बात करूँ तो मैं कोई प्रोफेशनल फोटोग्राफर नहीं हूँ पर लैंडस्केप फोटोग्राफी में मेरी अत्यधिक रुचि है |

अब सनसेट फोटोग्राफी एक प्रकार से लैंडस्केप का ही भाग है पर इसके लिए तनिक विशिष्ट कैमरा सेटिंग करनी होती है |

यही कैमरा सेटिंग को चुनना मेरे लिए एक चैलेंज था क्योंकि जो आँखें देख सकती थीं वैसी फोटो कैमरे में नहीं आती थी |

पिछले 15 सालों से मैंने ढेरों सूर्यास्त और सूर्योदय शूट किये और समय के साथ साथ मेरे फोटो में बहुत सुधार भी आया है |

अपनी इन्हीं गलतियों से सीख कर मैंने अपनी सूर्यास्त फोटोग्राफी को एक नए मुकाम पर पहुंचाया और आज आप सब के साथ उसी सबक को दोहराने का प्रयास करूंगा |

 आगे बढ़ने से पहले कुछ परेशानियों के बारे में बात करते हैं जो सूर्यास्त फोटो शूटिंग के दौरान आती हैं |

  • सनसेट फोटो में वार्म टोन का न आना |
  • फोटो का अंडर एक्सपोज्ड या ओवर एक्सपोज्ड हो जाना |
  • जब हम आसमान को एक्सपोज़ करते हैं तब बैकग्राउंड का अंडर एक्सपोज़ हो जाना |
  • फोटो में न चाहते हुए भी मोशन ब्लर आ जाना |
  • सनसेट फोटो का शार्प न होना |
  • हाईलाइट और शैडोज़ के बीच अंतर न होना |

 

टिप # 1 : सूर्यास्त के तय समय से पहले पहुचें और मौसम पर ध्यान दें 

सनसेट फोटोग्राफी

यह वाकई बड़े काम की टिप है और आप इसे हमेशा याद रखें |

सनसेट फोटोग्राफी करने में तनिक समय लगता है क्योंकि इसके लिए आप को कई सेटिंग करके अपने शॉट्स को रीकम्पोज़ करना होता है |

यदि आप सूर्यास्त या सूर्योदय के तय समय से पहले न पहुचें तब आप काफी कुछ मिस कर देंगे |

एक बात और, यदि वह स्थान एक मशहूर सनसेट पॉइंट हुआ तब तो पूछिए ही मत |

हो सकता है जब आप इस स्थान पर पहुचें तब उस समय तक इतनी भीड़ भाड़ हो चुकी हो की आपको एक बेहतर स्थान न मिल पाए |

सूर्यास्त के समय सीन तेजी से बदलता रहता है इसलिए अपने बेहतरीन दृश्य को शूट करने के लिए कम से कम आधे घंटे पहले उस स्थान पर ज़रूर पहुंच जाएँ और आसपास घूम कर जायजा ले लें |

आप पहले से इसकी तैयारी कर के रखें की आज सूर्योदय या सूर्यास्त कितने बजे होगा |

इसके लिए आप कुछ एप्प्स का सहारा ले सकते हैं जैसे SunCalc |

आपको मौसम पर भी ध्यान देना होगा क्योंकि हो सकता है जिस दिन आपको सूर्यास्त फोटोग्राफी करनी हो उस दिन बारिश आने वाली हो |

वैसे आसमान में कुछ बादलों के रहने से आपकी तस्वीर में ड्रैमेटिक इफ़ेक्ट आ जाता है इसलिए इस बात का भी ध्यान रखें |

आप अपने फोटोग्राफी गियर जैसे स्पेयर बैटरी, लेंस, फ़िल्टर इत्यादि को पहले से देख कर रख लें ताकि बाद में पछतावा न हो |

 

[crp]

 

टिप # 2 : बेहतरीन सनसेट फोटोग्राफी के लिए ट्राइपॉड का प्रयोग करें 

अब आप कहेंगे क्यों भला?

यहाँ आप गलत नहीं है (कुछ समय के लिए) क्योंकि ऐसा ढेरों बार हुआ है की मैंने भी अपनी यात्रा के दौरान हाथ से ही सनसेट इमेजेज खींची है |

तब तो ठीक है, अब कौन इतना सारा बोझ साथ में ले जाये |

पर रुकिए, आप यह नहीं चाहेंगे की आपकी सनसेट फोटो में धुंधलापन आ जाये इसलिए अब ट्राइपॉड का महत्त्व समझिये |

सूर्यास्त के दौरान जब रौशनी पर्याप्त रहती है तब तक तो ठीक है पर जैसे जैसे अँधेरा बढ़ने लगता है कैमरे की शटर स्पीड कम हो जाती है (यदि आप ऑटो या अपर्चर प्रायोरिटी मोड में हैं) |

एक निश्चित संख्या के बाद फोटो में मोशन ब्लर आने की संभावना बढ़ जाती है इसलिए जहाँ तक हो सके ट्राइपॉड का उपयोग करें |

ट्राइपॉड उपयोग करते समय एक ही स्थान पर से सारी तस्वीरें न लें, अपना पर्सपेक्टिव बदलते रहें |

जैसे जैसे सनसेट होता जाता है वैसे वैसे आप एक बेहतर कम्पोजीशन के लिए अपना स्थान बदलते रहें |

कई बार आपको लॉन्ग एक्सपोज़र शॉट्स लेने होते हैं जिससे फोटो में सूर्यास्त के रंग पूरी तरह से आ जाएँ या फिर नदी/समुद्र का पानी एकदम स्मूथ दिखने लगे तब ट्राइपॉड का होना बहुत ही आवश्यक हो जाता है |

 

टिप # 3 : शानदार सूर्यास्त की फोटो लेने के लिए वाइड एंगल लेंस का प्रयोग करें

सनसेट फोटोग्राफी

हांलाकि सनसेट फोटोग्राफी के लिए ऐसा कोई नियम नहीं है जिसमे आप फोकल लेंथ को बाँध सकें पर एक लैंडस्केप के लिए चौड़ाई हमेशा बेहतर होती है |

इसके लिए आप चाहे तो 12 /14 /16 /18 /24  mm फोकल लेंथ का प्राइम लेंस का उपयोग कर सकते हैं या फिर कोई ज़ूम लेंस जैसे 24-70  mm |

एक बार जब आप सीन को सेट कर लें तब तनिक ज़ूम कर भी अपनी फोटो कम्पोज़ कर सकते हैं |

ज़ूम करने से आप रास्ते में आने वाली अनचाही वस्तुओं को हटा पाएंगे ताकि आपका कम्पोजीशन बेहतर हो सके |

वैसे सनसेट फोटोग्राफी के दौरान किसी वस्तु जैसे पेड़ पौधे, पहाड़ियां  या मानव आकृतियां फोरग्राउण्ड में रखने से सनसेट फोटो में बढ़िया प्रभाव मिलता है |

वैसे वाइड एंगल लेंस का उपयोग कर फोटो लेने से आप बाद में भी अपने हिसाब से ज़रूरी हिस्सों की क्रॉपिंग कर सकते हैं |

 

टिप # 4 : सूर्यास्त फोटो को RAW फॉर्मेट में ही खींचें

बाई डिफ़ॉल्ट हमारे कैमरे की सेटिंग JPEG फॉर्मेट में ही होती है पर अधिक डिटेल्स पाने के लिए आप अपनी फोटो को रॉ फॉर्मेट में ही खींचें |

चूंकि रॉ फॉर्मेट में खींची गयी तस्वीरों की एडिटिंग आवश्यक है इसलिए यदि आपको एडिटिंग करना पसंद नहीं (जो सूर्यास्त फोटोग्राफी के लिए अति आवश्यक है ) तब आप बेशक  JPEG  में तस्वीर ले सकते हैं |

सूर्यास्त के दौरान बढ़िया डायनामिक रेंज की आवश्यकता होती है जिससे अँधेरे और उजाले के बीच का अंतर स्पष्ट हो सके |

RAW फोटो में वो तमाम जानकारियां भरी होती हैं जिन्हें बाद में रिकवर किया जा सकता है और इसी लिए रॉ फॉर्मेट में खींची गयी तस्वीर JPEG  से बेहतर होती है |

 

टिप # 5 : सनसेट फोटोग्राफी के लिए मैन्युअल मोड का प्रयोग करें

मैन्युअल मोड क्यों, मेरा कैमरा तो ऑटो मोड में भी बढ़िया फोटो खींचता है |

अक्सर हम लोग ऐसा ही सोचते हैं |

एक बार के लिए आप कई  कैमरे में दी गयी सनसेट फोटोग्राफी की आटोमेटिक सेटिंग को चुन लें पर पूर्णतया ऑटो मोड का प्रयोग न करें |

ऑटो मोड में रहने के कारण कैमरा कई बार अपर्चर और ISO को बहुत बढ़ा देता है या फिर शटर स्पीड को बहुत कम देता है जिसके कारण बढ़िया सनसेट फोटो नहीं आ पाती है |

यह ज़रूरी नहीं की पूरी तरह मैन्युअल मोड का ही  प्रयोग किया जाये, आप सेमी  मैन्युअल मतलब अपर्चर या शटर प्रायोरिटी भी चुन सकते हैं |

 

टिप # 6 : सूर्यास्त की शार्प फोटो के लिए बड़ा अपर्चर नंबर चुनें

सनसेट फोटो

अपर्चर ऐसी चीज़ है जो बहुतों को कंफ्यूज कर देती है | 

यदि आप अपर्चर प्रायोरिटी चुनते हैं तब इसका मतलब है आपको अपना अपर्चर सेट करना है और कैमरा सीन के हिसाब से शटर स्पीड सेट कर लेगा |

वैसे सनसेट फोटोग्राफी के लिए अपर्चर प्रायोरिटी बेहतर है |

अब बढ़िया सनसेट फोटो लेने के लिए आपको आगे से लेकर पीछे तक का पूरा हिस्सा पूर्ण फोकस में रखना होगा और इसके लिए आपको छोटा अपर्चर यानि बड़ी अपर्चर संख्या चुननी होगी |

एक बेहतर परिणाम के लिए f11-f16 तक की अपर्चर संख्या  चुनना ठीक रहेगा (ऊपर की तस्वीर में मैंने f11 अपर्चर लिया है) |

अब जैसे जैसे आप अपर्चर की संख्या बढ़ाते जायेंगे वैसे वैसे लेंस का छेद छोटा होता जायेगा और पूरा क्षेत्र फोकस में आ जायेगा |

आप अपनी शुरआत f8 से करें और देखें की तस्वीर शार्प है की नहीं |

यदि नहीं तब आप धीरे धीरे कर के संख्या बढ़ाते जाएँ जब तक बिलकुल साफ तस्वीर न आ जाये |

यह ध्यान रखें की f18 से ऊपर जाने पर भी तस्वीर ठीक नहीं आती है पर अलग अलग लेंस में अलग अलग प्रभाव आता है |

मैंने इतने सारे सनसेट फोटो खींचे हैं और उसके बाद यह पाया है की अधिकतर लेंस  f11-f16 में बढ़िया परिणाम देते हैं |

फोकस के लिए आप फोकस पॉइंट्स को सिंगल न रख कर पूरे स्क्रीन पर फैला कर रखें |

आप चाहे तो मैन्युअल फोकस पर इंफिनिटी सेट कर सकते हैं या फोकस पीकिंग की मदद भी ले सकते हैं |

मैन्युअल फोकस करने से यह फायदा होगा की बदलती रौशनी में आपका फोकस फिक्स रहेगा |

 

टिप # 7 : परफेक्ट सनसेट फोटोग्राफी के लिए ISO कम से कम रखें

सनसेट फोटो

कैमरे में  ISO बढ़ने के साथ ही नॉइज़ की समस्या आने लगती है जिससे सूर्यास्त या सूर्योदय की फोटो एकदम खराब हो जाती है |

ISO के बारे में और अधिक जानकारी के लिए आप हमारे बेसिक फोटोग्राफी ट्यूटोरियल ज्वाइन कर सकते हैं |

जहाँ तक हो सके आप अपने कैमरे में ISO को कम से कम ही रखें और यह आप मैन्युअल, सेमी मैन्युअल या प्रोग्राम मोड पर ही कर सकते हैं |

आप अपने कैमरे का ISO 100 या 200 रख सकते हैं और यदि ज़रुरत हो तब भी इसे बहुत अधिक न बढ़ाएं |

जैसे ऊपर दी गयी सनसेट फोटो में मैंने ISO को 80 पर रखा है |

जैसे जैसे सूर्य डूबता जायेगा वैसे वैसे अँधेरा भी बढ़ता जायेगा और बढ़िया एक्सपोज़र के लिए आप शटर स्पीड को बदल सकते हैं  जिसके बारे में हम आगे बात करेंगे |

 

[crp]

 

टिप # 8 : बेस्ट सनसेट फोटोग्राफी के लिए शटर स्पीड पर ध्यान दें 

sunset photography

ऊपर दी गई टिप में हमने बात की यदि अँधेरा बढ़ता जायेगा तब शटर स्पीड भी अपने आप कम होने लगेगी यदि आपका कैमरा अपर्चर प्रायोरिटी या ऑटो मोड में है तब |

शटर स्पीड कम होने से सूर्यास्त की फोटोग्राफी के दौरान मोशन ब्लर आने की संभावना बढ़ जाएगी जिससे फोटो शार्प नहीं दिखेगी |

कई बार हम चाह कर कुछ ड्रामेटिक इफ़ेक्ट के लिए अपनी तस्वीरों में मोशन ब्लर डालते हैं तब लॉन्ग एक्सपोज़र शॉट्स लेना सही है |

पर मान लें यदि आप अपनी फोटो में पेड़ पौधे या आसमान में लौटते हुए पंछियों को दिखाना चाहते हैं तब शटर स्पीड कम होने से फोटो में ब्लर आ जायेगा |

इससे बचने के लिए आप आप ISO को धीरे धीरे बढ़ाएं (एक लिमिट तक ही ) क्योंकि आपको अपर्चर के नंबर को घटाना नहीं है |

अब मान लें आप  अपर्चर प्रायोरिटी मोड पर सूर्यास्त की फोटो 1/30 सेकंड शटर स्पीड और ISO 100 पर खींच रहे हैं |

अब जैसे ही आप ISO को 200 करेंगे तब शटर स्पीड अपने आप 1/60 सेकंड हो जाएगी और मोशन ब्लर की संभावना ख़तम हो जाएगी |

यदि लाइट भी धीरे धीरे कम होने लगे तब आप मैन्युअल मोड में जा कर शटर स्पीड को फिक्स करें और ISO को और बढ़ाएं (लेकिन 800 से ऊपर नहीं) |

ऊपर दी गयी सूर्यास्त की फोटो में मैंने शटर स्पीड 1/250 सेकंड रखा है |

हर सेटिंग में आप फोटो को कंपोज़ कर के ज़रूर देखें की सनसेट फोटो शार्प आ रही है या नहीं |

 

टिप # 9 : एक्सपोज़र कंपनसेशन और हिस्टोग्राम को देखना न भूलें 

sunset photography pose

सनसेट की फोटो लेने के दौरान बढ़िया एक्सपोजर पाना ही सबसे मुश्किल काम होता है क्योंकि इस समय लाइट लगातार कम होती रहती है |

एक्सपोज़र को सही से जांचने के लिए आप histogram को बीच बीच में ज़रूर देखते रहें और इसके हिसाब से ही सेटिंग करें |

अगर आपका हिस्टोग्राम बायीं ओर है तब इसका मतलब है आपकी फोटो अंडर एक्सपोज्ड है |

इस दशा में आपको एक्सपोज़र कंपनसेशन का उपयोग करना पड़ेगा जिसकी मदद से फोटो में एक्सपोज़र सही हो सके |

आपके कैमरा में Exposure Compensation (±EV) डायल दिया होगा जिसको घुमा कर आप अपनी फोटो को ज़रुरत के हिसाब से ओवर या अंडर एक्सपोज़ कर सकते हैं |

अधिकतर कैमरा में एक्सपोज़र कंपनसेशन -2 से लेकर +2 ही दिया रहता है पर कुछ एडवांस कैमरे में यह -5 से +5 तक दी जाती है |

कुछ ऐसे :

-2 . . 1 . . 0 . . + 1 . . +2

जैसे जैसे आप एक्सपोज़र कंपनसेशन को ‘0’ से ऊपर बढ़ाएंगे वैसे वैसे फोटो में एक्सपोज़र बढ़ता जायेगा |

यहं ध्यान देने वाली बात यह है कि केवल अपर्चर प्रायोरिटी मोड में ही आप एक्सपोज़र कंपनसेशन बदल पाएंगे, मैन्युअल मोड में नहीं |

सभी प्रकार के कैमरे में Exposure Compensation की सेटिंग अलग अलग होती है इसलिए इसे पहले ही जांच लें |

 

टिप # 10 : White Balance की सेटिंग को ऑटो में न रखें 

क्या आप जानते हैं कि सही वाइट बैलेंस सेटिंग न होने के कारण सूर्यास्त की फोटोग्राफ की कलर टोन बिगड़ सकती है?

जी हाँ ! 

कई बार हम लोग सभी बड़ी  सेटिंग तो कर लेते हैं पर इस छोटी सी सेटिंग को भूल जाते हैं और इसे ऑटो के भरोसे ही छोड़ देते हैं |

ऑटो वाइट बैलेंस होने के कारण सनसेट के फोटो में बिलकुल ही फ्लैट टोन आयेगी |

हांलाकि टोन में हुई गड़बड़ी को आप पोस्ट प्रोसेसिंग यानि की एडिटिंग में भी ठीक कर सकते हैं पर इन-कैमरा सेटिंग हमेशा बेहतर ही होती है |

अगर आपके कैमरा में सनसेट / सनराइज का सेटिंग पहले से ही दिया गया है तब तो आप इसे ही चुनें | 

यदि इस प्रकार का कोई सेटिंग नहीं है तब आप Cloudy या  Shade भी चुन सकते हैं जिससे तस्वीर में वार्म टोन (पीला और नारंगी) आयेगी | 

अगर आप फोटोग्राफी में थोड़ा एडवांस हैं तब आप मैन्युअली भी वाइट बैलेंस को सेट कर सकते हैं |

White balance को सेट कर अपनी फोटो कंपोज़ करें और देखें कौन सी सेटिंग आपके लिए बेहतर है |

 

टिप # 11 : धैर्य रखें और सूर्यास्त के शॉट्स को लगातार कंपोज़ करते रहें 

sunset in background

यह ध्यान रखें कि परफेक्ट सूर्यास्त की फोटो एक बार में ही नहीं आ पायेगी और इसके लिए आपको बहुत धैर्य रखना होगा |

अक्सर ऐसा होता है कि आसमान में ढेरों रंग उस समय उभर कर आते हैं जब सूर्य पूरी तरह ढल चुका होता है |

इन सब बातों पर अक्सर हम ध्यान नहीं देते और जैसे ही सूर्यास्त हुआ हम अपना कैमरा पैक कर निकल जाते हैं |

लगातार शॉट्स को कंपोज़ और शूट करने से ही आपको एक बढ़िया सनसेट फोटो मिलेगी क्योंकि सीन लगातार बदलता रहता है |

ध्यान दें  कि शॉट्स को कंपोज़ करने के लिए व्यू फाइंडर की बजे एलसीडी स्क्रीन का उपयोग करें जिससे आपकी आँखें खराब होने की संभावना नहीं रहेगी |

 

और अंत में…

सूर्यास्त और सूर्योदय हर जगह पर होता है और इसीलिए इन्हें शूट करने के लिए आपको कहीं दूर जाने की आवश्यकता नहीं है |

बस ज़रुरत है तो कुछ टिप्स और तनिक  प्रैक्टिस की जिससे आप शानदार सनसेट फोटोग्राफी कर सकें |

उम्मीद करता हूँ आपको यह सनसेट फोटोग्राफी टिप्स ज़रूर पसंद आये होंगे और आपको बहुत कुछ जानने को भी मिला होगा |

आप हमें कमेंट करें और बताएं कि यह सेशन आपको कैसा लगा और आप फोटोग्राफी के बारे में और क्या जानना चाहते हैं |

आप सनसेट की फोटो खींच कर हमारे फेसबुक ग्रुप या इन्स्टाग्राम पर पोस्ट करें और उनपर ज़रूरी कमेंट किया जायेगा |

आने वाले पोस्ट को समय से पढने के लिए यात्राग्राफ़ी को सब्सक्राइब करें !

इन बेहतरीन टिप्स को अधिक से अधिक शेयर करें जिससे सभी लोग इसका लाभ ले सकें |

 

शेयर करें!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top